नयी दिल्ली: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता सलमान खुर्शीद ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की इस आलोचना को शुक्रवार को खारिज किया कि कांग्रेस का प्रदर्शन एक परिवार को बचाने के लिए था। खुर्शीद ने कहा कि मुख्य मुद्दा महंगाई और बेरोज़गारी था लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि वह हमेशा अपने नेता के समर्थन में आएंगे।

पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में खुर्शीद ने कहा कि कांग्रेस ‘लोगों पर हमले के’ खिलाफ लड़ रही है।

उन्होंने कहा, “ यह लंबी लड़ाई है और हम इस लड़ाई को जारी रखेंगे। बेरोज़गारी और महंगाई से बड़ा मुद्दा कोई और नहीं है।”

कांग्रेस नेता ने कहा, “ अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता को छीना जा रहा है, ये सभी मुद्दे हैं। लेकिन मुख्य मुद्दा बेरोज़गारी और महंगाई है।”

भाजपा द्वारा प्रदर्शन को एक परिवार को बचाने की कोशिश करार दिए जाने को लेकर पूछे गए सवाल पर खुर्शीद ने कहा, “ वे किसे बचाते हैं? क्या उनका परिवार नहीं है? मैं परिवार को बचाने क्यों आऊंगा, मैं अपने नेता को बचाऊंगा, मेरा नेता मुझे बचाता है। अगर वे इसे परिवार की परिभाषा बनाते हैं, तो मुझे कोई दिक्कत नहीं है।”

भाजपा ने उनकी इस टिप्पणी का इस्तेमाल कांग्रेस पर हमला करने के लिए किया । भाजपा के आईटी प्रकोष्ठ के प्रमुख अमित मालवीय ने उनकी टिप्पणी का एक वीडियो टि्वटर पर पोस्ट किया और कहा, ‘‘लेकिन क्या हमें यह नहीं बताया गया था कि कांग्रेस लोकतंत्र बचाने के लिए प्रदर्शन कर रही है?”

भाजपा प्रवक्ता शहज़ाद पूनावाला ने भी खुर्शीद की टिप्पणी की वीडियो क्लिप पोस्ट की और कहा कि एजेंडा स्पष्ट हो गया है।

उन्होंने ट्विटर पर कहा, “यह भारत को बचाने के लिए नहीं था बल्कि परिवार और भ्रष्टाचारियों को बचाने के लिए था। आप मुझे बचाते हैं और मैं आपको बचाता हूं। भ्रष्टाचार बचाओ आंदोलन।”