महिषादल में तृणमूल कार्यकर्ता की हत्या

Tmc member has been killed in koljajhj

कोलकाता, 25 मई (हि.स.) । पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के छठे चरण से पहले एक और हत्या हुई है। तमलुक लोकसभा के महिषादल इलाके में तृणमूल के एक कार्यकर्ता को मौत के घाट उतारा गया है। इसी लोकसभा क्षेत्र के नंदीग्राम में दो दिन पहले महिला भाजपा कार्यकर्ता की हत्या हुई थी। आरोप है कि तमलुक लोकसभा क्षेत्र के महिषादल में तृणमूल कार्यकर्ता की धारदार हथियार से काटकर हत्या कर दी गई है। ये भी आरोप है कि पोस्टमार्टम के दौरान एक और तृणमूल कार्यकर्ता के सिर पर कथित तौर पर धारदार हथियार से वार किया गया। गंभीर रूप से घायल होने पर उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। दोनों ही मामलों में हमले का आरोप बीजेपी पर है, लेकिन बीजेपी ने सभी आरोपों से इनकार किया है। उधर, भाजपा का दावा है कि यह हत्या तृणमूल के गुटीय संघर्ष के कारण हुई है।



स्थानीय सूत्रों के मुताबिक, महिषादल के मृत तृणमूल कार्यकर्ता का नाम शेख मोइबुल (42) है। घटना महिषादल के धमैतनगर इलाके की है। शुक्रवार की शाम मोइबुल बाइक से घर लौट रहा था, तभी रजनीगंज बाजार इलाके में कुछ लोगों ने उसे घेर लिया। आरोप है कि उसी दौरान मोइबुल पर हमला किया गया। पहले तो उसकी जमकर पिटाई की गई। इसके बाद धारदार हथियार से उसकी हत्या कर दी गई। गंभीर रूप से घायल होने पर बदमाशों ने उसे सड़क के किनारे छोड़ दिया। बाद में अस्पताल ले जाने पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

उल्लेखनीय है कि मोइबुल बेतकुंडु ग्राम पंचायत का पूर्व तृणमूल सदस्य था। महिषादल के तृणमूल विधायक तिलककुमार चक्रवर्ती ने कहा, ''''कल बूथ एजेंटों का फॉर्म भरने का काम चल रहा था। वहां से घर जाते समय मन्ना पारा में भाजपा के लोगों ने उनका रास्ता रोककर उन पर हमला कर दिया।

स्थानीय बीजेपी नेता प्रदीप बिजली ने कहा, ''''हम ऐसा क्यों करेंगे। तृणमूल खुद ही आपस में लड़ रही है। इसी वजह से हत्या हुई है।

हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश